सात बलों से होती है स्वस्थ व्यक्ति की पहचान : शरद पारदी

दिल्ली : खेलरत्न, सं, Time, 10:50, PM.
स्वस्थ व्यक्ति की पहचान सात बलों से होती है। ये शरीर बल, मनोबल, बुद्धि बल, विद्या बल, चरित्र बल, आत्मबल, और धन बल है। वे पूरी तरह से स्वस्थ हैं। यह बातें हरिद्वार के देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलपति शरद पारदी ने मंगलवार को कही। विश्वविद्यालय में ‘फिटनेस फोर ऑल’ विषय पर कार्यशाला आयोजित की गई थी। इसमें देश के विभिन्न हिस्सों से आए विशेषज्ञों ने विषय पर चर्चा की। फिजिकल एजुकेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया और देव संस्कृति विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वावधान में कार्यक्रम का आयोजन हुआ।

pefi3
देव संस्कृति विश्वविद्यालय के कुलपति शरद पारदी और अन्य पदाधिकारी

कार्यक्रम का शुभारंभ विश्वविद्यालय के कुलपति शरद पारदी, प्रोफेसर सुरेश लाल वर्णमाल, पेफी के राष्ट्रीय सचिव डा. पियुष जैन, डा. अजय मलिक ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। पियुष जैन ने कहा कि स्वास्थ्य की आवश्यकता हर व्यक्ति और वर्ग को है। यदि हम बिना थकान के दैनिक कार्यों को अंजाम दे पा रहे हैं तो हम पूरी तरह से स्वस्थ हैं। स्वस्थ रहने के लिए संतुलित आहार लेना जरुरी है। कुलपति शरद पारदी ने कहा कि कार्यशाला का उद्देश्य सात बलों को संतुलित कर स्वास्थ्य के मापदंडो को जानना है। अजय मलिक ने कार्यशाला में शामिल हुए प्रतिनिधियों को धन्यवाद ज्ञापित किया। इस मौके पर आरके एस डागर, डा. जगवीर सिंह की देखरेख में कार्यशाला संपन्न हुई।

Leave a Reply