केरल को हराकर बीसी रॉय फुटबॉल ट्रॉफी के फाइनल में पहुंचा यूपी

-पंजाब के फगवाड़ा में खेला जा रहा है बीसी रॉय अंडर-19 राष्ट्रीय फुटबॉल
-सेमीफाइनल में यूपी ने केरल को 2-1 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया
नोएडा। खेलरत्न सं, Time, 9:55, PM.
सात साल बाद उत्तर प्रदेश की अंडर-19 फुटबॉल टीम बीसी रॉय फुटबॉल ट्रॉफी के फाइनल में पहुंच गई है। सेमीफाइनल में टीम ने केरल को 2-1 से हराया। पश्चिम बंगाल से उत्तर प्रदेश को खिताबी मुकाबला खेलना है। पंजाब के फगवाड़ा में खेली जा रही प्रतियोगिता में अब तक खेले गए चार मैचों में प्रदेश की टीम ने शानदार प्रदर्शन किया है। फाइनल में भी इस प्रदर्शन को यूपी दोहराना चाहेगा।

football 2
उत्तर प्रदेश की अंडर-19 फुटबॉल टीम जीत के बाद खुशी मनाते हुए

नोएडा के अक्षुण्ण त्यागी के गोल की बदौलत उत्तर प्रदेश अंडर-19 फुटबॉल टीम ने केरल को 2-1 से हराया। बुधवार को खेले गए सेमीफाइनल के अंतिम मिनट में नोएडा के इस खिलाड़ी ने गोल कर टीम को शानदार जीत दिलाई। फुटबाल के राष्ट्रीय खिताब के लिए यूपी की टीम 15 दिसंबर को भिड़ेगी।
त्यागी ने तीन मैचों में 3 गोल किए हैं। दो बार प्रदेश को जीत दिलाने में इनकी महत्वपूर्ण भूमिका रही। वहीं नोएडा के मेहुल सपरा मध्यम पंक्ति से खेलते हुए मैदान पर शानदार मूव बनाए। इनके पास से अग्रिम पंक्ति को बढ़त बनाने में सहूलियत मिली। सेमीफाइनल में केरल ने मध्यांतर से पहले यूपी पर 1-0 की बढ़त बनाई। मध्यांतर के तुरंत बाद यूपी के प्रतीक ने गोल कर टीम को बराबरी पर ला दिया। वहीं अक्षुण्ण ने 87वें मिनट में गोल कर टीम को फाइनल तक पहुंचा दिया। यूपी टीम के प्रशिक्षक इरशाद अहमद और इरफान जमा खान ने फाइनल में सकारात्मक परिणाम आने की उम्मीद जताई है।

akshunn
अक्षुण्ण त्यागी

अक्षुण्ण और सिमेंस ने यूपी से सबसे अधिक गोल दागे
प्रदेश टीम के स्ट्राइकर अक्षुण्ण त्यागी टीम से सबसे अधिक गोल मारने वाले खिलाड़ी भी हैं। 3 गोल मार कर सिमेंस भी गोल करने में अक्षुण्ण के साथ संयुक्त रूप से पहले स्थान पर हैं, लेकिन दोनों खिलाड़ियों में अक्षुण्ण बेहतर माने जा रहे हैं। शहर के इस फुटबॉलर ने तीन मैचों में तीन गोल किए। वहीं सिमेंस ने एक ही मैच में तीन गोल किए। अक्षुण्ण ने दो बार विजयी गोल दागा। लीग मुकाबले में मिजोरम और सेमीफाइनल में केरल के खिलाफ यूपी की टीम अक्षुण्ण के गोल से जीती।

2012 में उत्तर प्रदेश को खिताबी जीत मिली थी
जिला फुटबॉल संघ के महासचिव वाजिद अली ने बताया कि 2012 में यूपी बीसी रॉय ट्रॉफी अंडर-19 की विजेता बनी थी। लिहाजा 7 साल बाद फिर प्रदेश की टीम के पास इतिहास दोहराने का मौका है। इससे पहले 1998 में टीम को तीसरा स्थान मिला था। इस बार टीम शानदार प्रदर्शन कर रही है। केरल के साथ हुए सेमीफाइनल में भी टीम हावी रही। हमने कई मौके गंवाए, नहीं तो गोल का अंतर और अधिक होता।

Leave a Reply