राष्ट्रीय प्रतियोगिता में अब जूनियर तैराकों से पदक की उम्मीद

-तीन जुलाई से राष्ट्रीय जूनियर तैराकी चैंपियनशिप पुणे में शुरू होगी

नोएडा, खेलरत्न, सं: Time, 9:00,PM. updated, 1:15, am.
aliya srilanka
aliya singh
पुणे में शुक्रवार को समाप्त हुई राष्ट्रीय सब जूनियर तैराकी चैंपियनशिप में उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व कर रहे  शहर के तैराकों के हाथ खाली  रहे. सुहानी जैन पदक से  उम्मीद की जा रही थी, लेकिन पदक की चमक इनसे दूर रही.  हालांकि जेनेसिस ग्लोबल स्कूल के रणवीर ने एक स्वर्ण सहित 4 पदक जीतकर शहर का नाम रोशन किया. उन्होंने दिल्ली का प्रतिनिधित्व किया.  अब तीन जुलाई से जूनियर तैराको की परीक्षा होगी. राष्ट्रीय जूनियर तैराकी चैंपियनशिप पुणे में ही शुरू होगी. इस प्रतियोगिता में अंतर्राष्ट्रीय तैराक आलिया सिंह और नव्या सिंघल से पदक जीतने की पूरी उम्मीद है.
आलिया ने बीते वर्ष नए रिकॉर्ड के साथ राष्ट्रीय तैराकी प्रतियोगिता में दो व्यक्तिगत स्वर्ण पदक जीते थे. वहीँ इन्होने सैफ तैराकी में भी देश का प्रतिनिधित्व करते हुए 2 व्यक्तिगत स्वर्ण अपने नाम  किया था. नव्या सिंघल ने इस बार राज्य तैराकी प्रतियोगिता में नए रिकॉर्ड के साथ 5 स्वर्ण अपने नाम किया. राज्य तैराकी में सभी व्यक्तिगत स्पर्धा का स्वर्ण आलिया ने भी नए रिकॉर्ड के साथ जीता. इनके अलावा नोएडा, ग्रेटर नोएडा के आलिया सिंह, नव्या सिंघल, दिशा भंडारी, अग्रता सिरोही, तेजल वर्मा, लक्ष्य वर्मा, आर्या सिंह, साहिल पंजवानी आदि तैराक भाग लेंगे. जनपद  जनपद के ये तैराक भी प्रतियोगिता में उलटफेर कर सकते हैं. जिला तैराकी संघ के सचिव सुरेश देशवाल ने बताया कि सब जूनियर वर्ग में सुहानी फाइनल में पहुँची, लेकिन पदक जितने में सफल नहीं हो पाईं। जूनियर वर्ग में कई पदक जीतने की उम्मीद है. अंतर्राष्ट्रीय अनुभव रखने वाली आलिया पदक जरूर जीतेंगी.
आलिया और नव्या इसलिए हैं पदक की दावेदार 
swiming 1 j
navya singhal
राज्य  जूनियर तैराकी में आलिया, नव्या ने शानदार प्रदर्शन किया था. आलिया सिंह ने 50 मीटर ब्रेस्ट स्ट्रोक, 200 मीटर व्यक्तिगत मेडले, 100 और 200 मीटर ब्रेस्ट स्ट्रोक  और 50 मीटर बटरफ्लाई में नए रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक झटका.
 वहीं नव्या सिंघल ने 100, 200 और 400 मीटर फ्री स्टाइल, 200 मीटर बटरफ्लाई और 400 मीटर व्यक्तिगत मेडले में पुराने रिकॉर्ड ध्वस्त कर सोना अपने नाम किया. इनके अलावा दिशा भंडारी ने पांच व्यक्तिगत स्वर्ण पदक अपने नाम किए थे.

Leave a Reply