राष्ट्रीय तैराकी में श्रेया और देविका पर होगा पदक जीतने का दारोमदार

नोएडा। खेलरत्न, सं : Time, 10:00, PM.
राष्ट्रीय सब जूनियर तैराकी प्रतियोगिता में जिले की श्रेया सुराना और देविका पाठक पर पदक जीतने का दारोमदार होगा। दोनों तैराक उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व करेंगी। बरेली में 26 मई को समाप्त हुई प्रदेश सब जूनियर तैराकी प्रतियोगिता में बेहतर प्रदर्शन पर देानों खिलाड़ियों को प्रदेश टीम में जगह दी गई है। राष्ट्रीय तैराकी प्रतियोगिता गुजरात के राजकोट में 26 से 30 जून तक होगा।

swimming shreya
बेस्ट स्वीमर ट्रॉफी के साथ श्रेया सुराना

प्रदेश सब जूनियर तैराकी प्रतियोगिता में श्रेया सुराना ने तीन व्यक्तिगत सहित पांच स्वर्ण पदक अपने नाम किए। वहीं एक रजत पदक भी जीता। वहीं देविका ओझा ने एक स्वर्ण पदक जीतकर राष्ट्रीय तैराकी प्रतियोगिता के लिए क्वालीफाई किया। प्रदेश जूनियर टीम की घोषणा गुरुवार को की जाएगी। राष्ट्रीय जूनियर तैराकी चैंपियनशिप भी राजकोट में ही खेली जाएगी। श्रेया पिछले साल हुई प्रदेश सब जूनियर तैराकी प्रतियोगिता में भी उम्दा प्रदर्शन कर चुकी हैं। उन्होंने इस प्रतियोगिता में पांच व्यक्तिगत स्वर्ण पदक अपनी झोली में डाले थे। दो रिले का स्वर्ण भी उन्हें मिला था। जूनियर वर्ग की राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए भी जिले से कई खिलाड़ियों के चुने जाने की संभावना है। जिला तैराकी संघ के सचिव सुरेश देशवाल ने बताया कि देानों तैराक ने प्रदेश सब जूनियर में अच्छा प्रदर्शन किया। राष्ट्रीय सब जूनियर तैराकी प्रतियोगिता में भी श्रेया और देविका से बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है।

प्रदेश तैराकी में बेस्ट स्वीमर का तमगा मिला
श्रेया के शानदार प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें बेस्ट स्वीमर के खिताब से नवाजा गया है। श्रेया सुराना ने 50 और 100 मीटर फ्री स्टाइल में सोने का तमगा हासिल किया। इसके अलावा इस जलपरी ने 200 मीटर व्यक्तिगत मेडले में भी स्वर्ण अपनी झोली में डाला। उन्होंने रिले स्पर्धाओं में भी दो स्वर्ण पदक झटके। इसके अलावा व्यक्तिगत स्पर्धा में एक रजत पदक जीता। वहीं देविका ओझा ने 100 मीटर बैक स्ट्रोक में सोने का तमगा जीता। इसके अलावा रिले में भी स्वर्ण पदक झटका।

चार साल की उम्र से कर रही हैं तैराकी
डीपीएस की सातवीं कक्षा की छात्रा श्रेया सुराना चार वर्ष की उम्र में पहली बार तरणताल में उतरी। इसके बाद से वह नियमित रूप से अभ्यास कर रही हैं। प्रतिदिन वह तीन-चार घंटे का अभ्यास करती हैं। इसमें तैराकी के अभ्यास के साथ ही फिटनेस के लिए व्यायाम भी शामिल है। इसी तरह देविका ओझा भी प्रतिदिन कड़ा अभ्यास करती हैं। देानों खिलाड़ियों ने प्रदेश और राष्ट्रीय स्तर की कई प्रतियोगिता में पदक जीतकर जिले का नाम रोशन किया है।

Leave a Reply