संतोष ट्रॉफी में नोएडा के रिपुदमन, गौरव,अनुपम और मुस्तफा ने दिखाया दम

Santosh Trophy 01
file photo

नोएडा। खेलरत्न, सं : Time, 10:20, PM.
प्रतिष्ठित फुटबॉल टूर्नामेंट संतोष ट्रॉफी में शहर के खिलाड़ियों ने दम दिखाया। इस टूर्नामेंट में पहली बार शहर के चार फुटबॉलरों ने भाग लिया। सबसे पुराने फुटबॉल प्रतियोगिता में से एक संतोष ट्राफी में रिपुदमन पोखरियाल, गौरव चड्ढा, अनुपम विश्वकर्मा और मुस्तफा खान ने दिल्ली टीम का प्रतिनिधित्व किया। प्रतियोगिता 21 अप्रैल को समाप्त हुई। दिल्ली की टीम प्रतियोगिता के टॉप 6 टीमों में रही।

gaurav
गौरव चड्ढा

सेक्टर-36 निवासी गौरव चड्ढा ने प्रतियोगिता में सेंटर हाफ से खेलते हुए टीम के लिए गोल के कई मौके बनाए। वहीं अन्य खिलाड़ी राइट और लेफ्ट विंगर की भूमिका में दिल्ली की टीम में शामिल किए गए थे। चारों खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए टीम को ऑल इंडिया संतोष ट्रॉफी प्रतियोगिता तक पहुंचाया। जम्मू कश्मीर के कटरा में नॉर्थ जोन संतोष ट्रॉफी टूर्नामेंट में दिल्ली ने चंडीगढ़, उत्तराखंड और जम्मू कश्मीर को मात देकर ऑल इंडिया टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाई किया।

ripudaman
रिपुदमन

लुधियाना में हुई इस प्रतियोगिता में भी दिल्ली ने अच्छी शुरुआत करते हुए मेघालय को 1-0 से हराया, लेकिन दूसरे मुकाबले में सर्विसेज से 2-1 से हारना पड़ा। गोवा ने दिल्ली को 4-2 से मात दी। आखिरी लीग मैच में दिल्ली ने ओडिशा को हराकर अपने ग्रुप में तीसरा स्थान हासिल किया, लेकिन सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई नहीं कर सके। पहले दो टीमों को सेमीफाइनल में जगह मिली। संतोष ट्रॉफी के इतिहास में दिल्ली एक बार विजेता और एक बार उपविजेता रहा है। ये खिलाड़ी दिनेश बिष्ट की देखरेख में फुटबॉल का प्रशिक्षण ले रहे हैं। गौरव चड्ढा ने बताया कि संतोष ट्रॉफी खेलना बड़ी उपलब्धि है। हमारी टीम का अच्छा प्रदर्शन भी रहा। कई मैचों में रोमांचक मुकाबले के बाद हम हार गए, जिससे सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई नहीं कर पाए। भविष्य में और भी बेहतर प्रदर्शन करने का प्रयास होगा।

nustafa
मुस्तफा

पहले भी ये खिलाड़ी कर चुके हैं उम्दा प्रदर्शन
संतोष ट्रॉफी प्रतियोगिता से पहले भी चारों खिलाड़ियों का उम्दा प्रदर्शन रहा है। गौरव ने 2018 में भी संतोष ट्रॉफी में दिल्ली का प्रतिनिधित्व किया। वहीं रिपुदमन भी पहले यह प्रतियोगिता खेल चुके हैं। मुस्तफा और अनुपम ने पहली बार संतोष ट्रॉफी में दमखम दिखाया। इससे पहले चारों खिलाड़ी विभिन्न क्लबों अपनी प्रतिभा प्रदर्शित कर चुके हैं। उनकी खूबियों को देखते हुए दिल्ली टीम में जगह दी गई।

 

anupam
अनुपम

नोएडा से कई फुटबॉल सितारे निकले
नोएडा ने कई राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय फुटबॉलर दिए हैं। रॉबिन सिंह भारतीय फुटबॉल टीम के स्ट्राइकर रहे। वहीं कार्तिकेय स्वरूप अंडर-13 फुटबॉल टीम का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। रुद्रांश सिंह वर्तमान में जूनियर भारतीय टीम के शिविर में शामिल हैं। भारतीय महिला फुटबॉल टीम के मुख्य प्रशिक्षक की भूमिका अनादि बरुआ निभा चुके हैं। इनके अलावा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर के कई फुटबॉलर शहर के निवासी हैं।

Leave a Reply