नीर, सोनाली, श्रुति और अर्नव की बैडमिंटन में खिताबी जीत

नोएडा। खेलरत्न, सं : Time, 10:30, PM.
पहली जिला रैंकिंग बैडमिंटन चैंपियनशिप के विभिन्न वर्गों के ज्यादातर खिताबी मुकाबले एकतरफा रहे। ग्रेटर नोएडा वेस्ट में फाइनल मुकाबले खेले गए। अंडर-15 में नीर नेहवाल और सान्वी आनंद ने जीत हासिल की। विजेता खिलाड़ियों को ट्रॉफी देकर पुरस्कृत किया गया। प्रतियोगिता के क्वार्टर फाइनल तक पहुंचने वाले खिलाड़ियों की जिला स्तर पर रैकिंग बनेगी।

bad
प्रतियोगिता के विजेता और उपविजेता खिलाड़ी

दो मुकाबलों को छोड़कर अन्य एक एकतरफा रहे। लड़कियों के अंडर-11 में श्रुति चौहान ने माही अग्रवाल को एकतरफा मुकाबले में 21-09, 21-09 से हराकर खिताबी जीत हासिल की। लड़कों के वर्ग में अर्नव यादव ने लविश भाटी को सीधे सेटों में 21-15, 21-9 से हराकर फाइनल जीता। अंडर-13 में विभाष अग्रवाल ने रक्षित गर्ग को सीधे सेटों में 21-19, 21-18 से मात देकर ट्रॉफी जीती। लड़कियों के वर्ग में रिद्धिमा सिंह ने श्रुति चौहान को सीधे सेटों में 21-11, 21-14 से हराया। लड़कियों के अंडर-15 में सान्वी आनंद ने रागिनी जैन को 21-18, 21-17 से हराकर खिताब पर कब्जा किया। लड़कियों के अंडर-19 खिताब सोनाली सिंह ने अपने नाम किया। उन्होंने कृतिका भट्ट को रोमांचक मुकाबले में 21-16, 17-21, 21-18 से मात दी। अंडर-15 लड़कों के युगल फाइनल में रक्षित और विभाष की जोड़ी ने रेयान व शौर्य की जोड़ी को 21-13, 21-16 से आसानी से हराया। लड़कों के एकल वर्ग में नीर नेहवाल और हर्षित तोमर के बीच कांटे का मुकाबला हुआ। आखिरकार नीर नेहवाल ने हर्षित तोमर को 21-11, 11-21, 21-17 से मात देकर खिताब पर कब्जा किया। जिला बैडमिंटन संघ के सचिव आनंद खरे ने बताया कि इस प्रतियोगिता से कई प्रतिभाएं सामने आई हैं। अब इन खिलाड़ियों की रैंकिंग तैयार की जाएगी। पहली बार जिले में यह व्यवस्था लागू की गई है।

 

विजेता को मिलेंगे चार अंक
सभी वर्गों के फाइनल में जीत हासिल करने वाले शटलरों को चार अंक मिलेंगे। उपविजेता खिलाड़ी को 3 अंक दिए जाएंगे। इसी तरह सेमीफाइनल तक पहुंचने वाले सभी खिलाड़ियों को दो-दो अंक मिलेंगे। क्वार्टर फाइनल तक का सफर तय करने वाले खिलाड़ियों को एक-एक अंक से संतोष करना पड़ेगा। इससे पहले तक के शटलर को अंक नहीं मिलेंगे। ऐसे में उनकी रैंकिंग नहीं बनेंगी। अंकों के आधार पर वरीयता तैयार होगी। जिसे देखते हुए प्रदेश बैडमिंटन चैंपियनशिप के विभिन्न वर्गों के खिलाड़ियों का चयन किया जाएगा। प्रत्येक वर्ष दो-तीन रैंकिंग प्रतियोगिता आयोजित होंगी। इसके अलावा जिला बैडमिंटन चैंपियनशिप में भी खिलाड़ी भाग ले सकेंगे।

Leave a Reply