अमेरिका के साथ मुकाबला तय करेगा भारत का भविष्य : गौस मोहम्मद 

खेल की बात : विश्व कप अंडर 17 फुटबॉल  चैंपियनशिप : 
-अमेरिका को हराने या ड्रा खेलने के लिए सभी पक्षों से  दिखानी होगी ताकत
 – 6 अक्टूबर को है भारत और अमेरिका का मुकाबला
– भारत विश्व कप अंडर 17 चैंपियनशिप  में कर सकता है उलटफेर
   

दिल्ली, खेलरत्न, सं : Time, 4:30, PM.
भारत विश्वकप अंडर 17 फुटबॉल चैंपियनशिप में उलटफेर कर सकता है. इस वर्ग के खिलाड़ियों की तकनीक और अन्य पहलुओं से दूसरी टीम ज्यादा परिचित नहीं रहती है. वहीँ घरेलू दर्शकों की हौसलाअफजाई से भी टीम का मनोबल बढ़ेगा.  इसका लाभ मेजबान देश को मिलना तय है. ऐसे में अमेरिका के साथ पहला मुकाबला हमारे लिए काफी अहम् है. अगर हम अमेरिका से ड्रा खेलते हैं या जीतते हैं तो टॉप 16 टीमों में पहुँचने की उम्मीद होगी. जो भारत के लिए पहली बड़ी उपलब्धि होगी.  यह मानना है मशहूर हिंदी कमेंटेटर और फुटबॉल विशेषज्ञ गौस मोहम्मद का.
india world cup team
भारत की अंडर 17 फुटबॉल टीम
वर्ल्ड कप फुटबॉल के लिए कमेंट्री कर चुके गौस  मोहम्मद बताते हैं कि अंडर 17 वर्ल्ड कप में भारत उलटफेर जरूर करेगा. पूर्व राष्ट्रीय फुटबॉलर  गौस मोहम्मद इसके कई कारण  भी गिनाते हैं. वह  बताते हैं कि  भारत को अपने पहले मैच पर पूरी तरह से फोकस करना चाहिए, क्योंकि यह मैच हम जीत भी सकते या ड्रा करा  सकते हैं. इसके बाद के मैच घाना और कोलंबिया से है, जो अंडर 17 फुटबॉल की विश्व विजेता रहीं हैं. ऐसे में अमेरिका ही ऐसी टीम है जिससे बेहतर करने की उम्मीद है.  हालाँकि भारत उन दोनों टीमों को भी
कड़ी टक्कर देने का माद्दा रखता है, ऐसे में परिणाम कुछ भी हो सकता   है. इसके लिए भारतीय टीम को पुरज़ोर कोशिश करनी होगी, क्योंकि अमेरिका 6 बार वर्ल्ड कप खेल चुका है और अर्जेंटीना की शैली के अनुसार तेज़ फुटबॉल खेलता है. भारतीय टीम को उनकी  अग्रिम पंक्ति को रोकने के साथ ही उनके गोलपोस्ट पर लगातार  हमले भी करने होंगे. ताकि अमेरिकी टीम बचाव की मुद्रा में रहे. यह तभी संभव है जब हम ग्राउंड के हरेक पोजीशन पर तेज तर्रार खेल दिखाएंगे.
gaus m
मशहूर हिंदी कमेंटेटर और फुटबॉल के जानकार गौस मोहम्मद
अंतर्राष्ट्रीय फुटबॉल विशेषज्ञ गौस बताते हैं कि मेज़बान होना भी हमारी टीम के लिए सकारात्मक पहलू है, क्योंकि जब ग्राउंड पर हमारे पक्ष में हज़ारों लोग होंगे तो खिलाड़ी उत्साहित होंगे और इसका लाभ हमें मिलेगा.   भारत की टीम   अच्छी है, यही कारण  है कि हम इस वर्ल्ड कप में छुपा रुस्तम साबित होंगे. मणिपुर, पंजाब, कर्नाटक, दिल्ली, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल आदि राज्यों के अच्छे खिलाड़ी टीम में हैं जो परिणाम बदलने की पूरी ताकत रखते हैं. कई अंतर्राष्ट्रीय खेलों की कमेंटरी कर चुके गॉस मोहम्मद बताते हैं कि भारत की  टीम ने वर्ल्ड कप से पहले कई अंतर्राष्ट्रीय मैच खेले और  प्रदर्शन भी अच्छा रहा, लेकिन उसपर ज्यादा आश्रित नहीं रहना होगा, क्योंकि विदेशी टीम फ्रेंडली मैचों में पूरा जोर कभी नहीं लगाती.
 

विश्वकप में भारत के मुकाबले

6 अक्टूबर : संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएसए )
9 अक्टूबर : कोलम्बिया से
12 अक्टूबर : घाना से
 
विश्वकप अंडर 17 से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य :
– प्रतियोगिता में 24 टीमें भाग ले रहीं हैं.
-इन टीमों को 6 ग्रुप में बांटा  गया है.
– टॉप 2 टीम को अंतिम 16 में सीधा प्रवेश मिलेगा
– इसके बाद तीसरे स्थान पर रहनेवाली 4 श्रेष्ठ टीम टॉप 16 में जाएगी.
-भारत के तीनों लीग  मुकाबले दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में खेले जायेंगे.
-भारत पहली बार अंडर 17 वर्ल्ड कप खेल रहा है
-मेजबानी भी पहली बार मिली है
-एशिया की पांच टीमें वर्ल्ड कप का हिस्सा हैं
-वर्ल्ड कप का फाइनल कोलकाता के साल्ट लेक स्टेडियम में खेला जाएगा
-भारत में इस टूर्नामेंट का प्रसारण सोनी पिक्चर्स नेटवर्क करेगा
-चैंपियनशिप के मुकाबले दिल्ली सहित देश के 6 शहरों में खेला जाएगा

Leave a Reply