डीडीसीए क्रिकेट का रोमांच नोएडा स्टेडियम में दिखेगा

नोएडा। खेलरत्न, सं : Time,10:30, PM.
नोएडा क्रिकेट स्टेडियम में डीडीसीए लीग का रोमांच दिख सकता है। देल्ही डिस्ट्रिक्ट एसोसिएशन (डीडीसीए) लीग के पदाधिकारियों ने स्टेडियम के प्रभारी एससी मिश्रा से मैचों के आयोजन को लेकर शनिवार को मुलाकात भी की है। जल्द से जल्द इस ग्राउंड को मैचों के आयोजन के लिए मांगा है।

noida stadium cricket
नोएडा क्रिकेट स्टेडियम

आधे घंटे तक डीडीसीए के छह पदाधिकारियों और स्टेडियम के प्रभारी एससी मिश्रा से बातचीत हुई । नोएडा स्टेडियम की पिच, आउटफिल्ड सहित ग्राउंड की सुविधाएं डीडीसीए पदाधिकारियों को पसंद आई। लिहाजा इस ग्राउंड में डीडीसीए लीग के मैच कराने के लिए प्राधिकरण से अनुमति मांगी है। इस लीग के मुकाबले अक्टूबर पहले सप्ताह से शुरू होकर मई जून तक खेले जाते हैं। लिहाजा अभी प्रतियोगिता के मुकाबले खेले जा रहे हैं। डीडीसीए से पंजीकृत कई खिलाड़ी गाजियाबाद और नोएडा में भी रहते हैं। ऐसे में इन खिलाड़ियों की टीमों के मैच नोएडा स्टेडियम में होने से उन्हें राहत मिलेगी। वर्तमान में उन्हें दिल्ली के ग्राउंड पर जाकर मैच खेलने होते हैं। वरिष्ठ प्रबंधक और स्टेडियम के प्रभारी एससी मिश्रा ने बताया कि डीडीसीए के पदाधिकारियों ने नोएडा स्टेडियम में डीडीसीए क्रिकेट लीग कराने की इच्छा जताई है। नियमानुसार उन्हें ग्राउंड दिया जाएगा। जिससे नियमित रूप से यहां क्रिकेट मुकाबले हो सकेंगे।

एक साल में 900 मैच कराता है डीडीसीए
डीडीसीए लीग में करीब 900 मुकाबले होते हैं। इन मैचों का आयोजन दिल्ली के 14 ग्राउंड पर होते हैं। प्रतिदिन इन ग्राउंड पर कोई न कोई मुकाबला होता है। लिहाजा इन मैदानों पर अक्टूबर से लेकर जून तक अन्य कोई प्रतियोगिता नहीं होती है। ऐसे में नोएडा स्टेडियम मिलने से दिल्ली के ग्राउंड पर से मैच का बोझ कम होगा। लीग के बाद भी डीडीसीए गर्मियों में प्रतियोगिताएं आयोजित करता है।

इस आयोजन के बाद बीसीसीआई के टूर्नामेंट मिल सकेंगे
नोएडा स्टेडियम में डीडीसीए लीग के मुकाबले होने से नियमित रूप से क्रिकेट का आयोजन होगा। डीडीसीए की संबद्धता बीसीसीआई से है। ऐसे में लीग के मुकाबले आधिकारिक होंगे। जिससे भविष्य में नोएडा स्टेडियम में रणजी और बीसीसीआई के अन्य मुकाबले के द्वार खुल जाएंगे। जिसका लाभ नोएडा प्राधिकरण को मिलेगा। बड़े बड़े क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन भी इस ग्राउंड में हो सकेगा। दो महीने पहले अफगानिस्तान अंडर-19 टीम ने एक सप्ताह तक इस ग्राउंड पर अभ्यास किया था। यह बड़ा आयोजन था। नहीं तो सामान्यत: इस स्टेडियम में स्थानीय टूर्नामेंट का आयोजन ही हो रहा है।

अगले सप्ताह ग्राउंड संचालकों के नामों की घोषणा
नोएडा स्टेडियम के 14 खेल मैदानों के संचालकों के नामों की घोषणा सप्ताह भर के अंदर होगी। नोएडा स्टेडियम ने टेक्निकल और फाइनांशियल बिड के तहत इन संचालकों और प्रशिक्षकों की नियुक्ति की है। टेक्निकल बिड में प्रशिक्षकों को अंतरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय महत्ता के आधार पर अंक दिए गए। वहीं फाइनांशियल बिड में अधिक बोली लगाने वाले प्रशिक्षकों को प्राथमिकता मिलेगी। फाइनांशियल और टेक्निकल बिड के अंकों के आधार पर प्रशिक्षकों को खेल मैदान दिए जाएंगे। सूत्रों के अनुसार फुटबॉल, स्केटिंग, टेबल टेनिस, बैडमिंटन, बास्केटबॉल, स्क्वैश, आदि खेलों के प्रशिक्षकों का निर्धारण हो चुका है। क्रिकेट ग्राउंड को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है। ऐसे में क्रिकेट ग्राउंड प्राधिकरण अपने पास भी रख सकता है।

Leave a Reply