नौ वर्षीय आशमन अंडर 14 क्रिकेट में बने मैन ऑफ़ द मैच

खेलरत्न, सप्ताह का खिलाड़ी : स्थानीय : आशमन गुलाटी,
स्कूल : डीपीएस, इंदिरापुरम, चौथी कक्षा के छात्र
निवास : इंदिरापुरम, गाजियाबाद
विशिष्टता : ऑल राउंडर
 खेल : क्रिकेट
इसलिए बने खेलरत्न सप्ताह के खिलाड़ी : 9 वर्षीय यह खिलाड़ी डॉ. सत्य पॉल अंतर स्कूल अंडर-14 क्रिकेट में मैन ऑफ द मैच बना
मजबूती : प्रतिबद्धता, मुख्य  रूप से बल्लेबाज अब ऑलराउंडर की भूमिका में मैदान पर उतरते हैं। उन्हें तीन  विकेट लेने पर ही मैन ऑफ द मैच मिला था।
कमजोरी : बल्लेबाजी में ज्यादा कुछ नहीं कर पाए हैं। भविष्य में इनसे उम्मीदें हैं।
ashman
आशमन गुलाटी
नोएडा। खेलरत्न, सं,
डॉ. सत्य पॉल अंतर स्कूल क्रिकेट टूर्नामेंट में टैलेंट हंट क्रिकेट एकेडमी से खेलते हुए आशमन गुलाटी ने तीन ओवरों में तीन विकेट झटककर जीत दिलाई। इनका प्रदर्शन इसलिए भी विशेष था, क्योंकि उनकी उम्र महज 9 वर्ष की है और वह खुद से 5 वर्ष बड़े खिलाड़ियों के साथ खेल रहे थे। विराट कोहली के प्रशंसक यह खिलाड़ी भविष्य में उन्हीं की तरह खेलना चाहते हैं। डेढ़ साल से क्रिकेट का प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे आशमन ने 4-5 क्रिकेट टूर्नामेंट खेला है। इसमें उन्होंने 12 विकेट झटके हैं और 40 से अधिक रन बनाए हैं। इनके प्रशिक्षक मुकेश शर्मा बताते हैं कि पहले यह सिर्फ बल्लेबाजी करते थे, लेकिन इनमें गेंदबाजी करने की भी क्षमता है। ऐसे में उन्हें गेंदबाजी की ओर भी लेकर आया। उनके पिता रोहित गुलाटी बताते हैं कि आशमन भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली का प्रत्येश स्ट्रोक उन्हें याद है। अगर किसी भी मैच का मुख्य अंश देखते हैं तो उस स्ट्रोक को वह पहले ही बता देता है। क्रिकेट के प्रति उनका लगाव आश्चर्यचकित करने वाला है। इसलिए आशमन को क्रिकेट प्रशिक्षण के लिए भेजा।
डेढ़ साल से मुकेश शर्मा से प्रशिक्षण ले रहे हैं आशमन
आशमन के प्रशिक्षक मुकेश शर्मा हैं। जो ग्रेटर नोएडा वेस्ट के द विजडम ट्री स्कूल ग्राउंड और गाजियाबाद के इंदिरापुरम स्थित सहज इंटरनेशनल स्कूल में  क्रिकेट की नई पौध को प्रशिक्षित करते हैं। एक दशक से अधिक समय से क्रिकेट का प्रशिक्षण देने वाले शर्मा की एकेडमी से कई बेहतर खिलाड़ी निकल चुके हैं। यहां के सहायक प्रशिक्षक  मुरारी कुमार हैं।

Leave a Reply