सीनियर तैराकी में रजत पदक जीतने वाले अंश अरोड़ा प्रदेश के पहले तैराक

नोएडा। खेलरत्न, सं : Time, 10:00, PM.
शहर के अंश अरोड़ा सीनियर तैराकी में रजत पदक जीतने वाले उत्तर प्रदेश के पहले तैराक बन गए हैं। इस कीर्तिमान के साथ ही अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिता में पदक, राष्ट्रीय जूनियर तैराकी में नए रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण झटकने वाले पुरुष तैराकों में भी इनका पहला स्थान है। 4 सितंबर को समाप्त हुई राष्ट्रीय सीनियर तैराकी प्रतियोगिता के बाद वह अपने आवास सेक्टर-49 पहुंचे।

ansh arora
अंश अरोड़ा

 

सेक्टर-49 निवासी अंश अरोड़ा 50 मीटर ब्रेस्ट स्ट्रोक स्पर्धा की शुरुआत में तीसरे स्थान पर थे, लेकिन 20 मीटर के बाद से उन्होंने दूसरा स्थान पक्का कर लिया। परिणाम भी यही रही। इससे पहले अंश अरोड़ा ने राष्ट्रीय जूनियर तैराकी में कमाल दिखाया है। उन्होंने इस प्रतियोगिता में नए रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। बेंगलुरू में खेल की बारीकियां सीख रहे इस तैराक से पहले कैलाश नाथ ने 1992 की राष्ट्रीय सीनियर तैराकी प्रतियोगिता की 1500 मीटर फ्री स्टाइल स्पर्धा में कांस्य पदक अपने नाम किया था, लेकिन अंश ने ब्रेस्ट स्ट्रोक में रजत पदक जीतकर इतिहास रचा। वह रजत पदक जीतने वाले प्रदेश के पहले तैराक भी हैं। प्रदेश सब जूनियर, जूनियर व पुरुष वर्ग में उनके नाम कई रिकॉर्ड दर्ज है। शहर के इस तैराक ने जूनियर अंतरराष्ट्रीय तैराकी में भी पदक जीता है। राष्ट्रीय सीनियर तैराकी प्रतियोगिता में रजत पदक जीतकर नोएडा वापस लौटे अंश अरोड़ा ने बताया कि भविष्य की प्रतियोगिताओं के लिए भी तैयारी चल रही है। लिहाजा जल्द ही अभ्यास से जुड़ना होगा, क्योंकि खेल में बेहतर परिणाम के लिए नियमित रूप से कड़ी मेहनत करना जरुरी है।

Leave a Reply