जिला चैंपियनशिप के विजेता-उपविजेता प्रदेश शतरंज में भाग लेंगे

 

नोएडा। खेलरत्न, सं : Time, 10:10, PM.
जिला शतरंज प्रतियोगिता में पहला और दूसरा स्थान हासिल करने वाले खिलाड़ियों को प्रदेश शतरंज प्रतियोगिता में खेलने का मौका मिलेगा। प्रदेश चैंपियनशिप 14 मई से नोएडा में शुरू होगी। इससे पहले रविवार को सेक्टर-31 स्थित प्रेजिडियम स्कूल में सोमवार को समाप्त हुई जिला शतरंज प्रतियोगिता के बाद खिलाड़ियों का चयन किया गया। प्रेजिडियम स्कूल की प्रमुख शीनू नारंग ने खिलाड़ियों को पुरस्कृत किया।

प्रतियोगिता में भाग लेते खिलाड़ी

अंडर-9 लड़कों के वर्ग में लोटसवैली स्कूल के उर्वंग संगल, एमिटी के शौर्य शिशोदिया, का चयन प्रदेश चैंपियनशिप के लिए किया गया है। उर्वंग ने छह में से साढ़े पांच अंक प्रापत किए। वहीं लड़कियों के वर्ग में प्रेजिडियम स्कूल की आरिणी भंडारी और एपीजे स्कूल की आद्या का चयन किया गया है। आरिणी ने चार में से चार अंक झटके। अंडर-15 में मानव रचना के मयन गुप्ता और रेयान स्कूल के सुहान गर्ग प्रदेश शतरंज प्रतियोगिता में जिले का प्रतिनिधित्व करेंगे। लड़कियों के वर्ग में बालभारती की सुवांशी देब और जीआईआईएस की रिया पचौरी जिले की टीम में चुनी गई हैं। जिला शतरंज प्रतियोगिता के दो आयुवर्ग में 200 से अधिक खिलाड़ियों ने शह और मात दी। नोएडा-ग्रेना चेस स्पोर्ट्स एसोसिएशन के सचिव केसी जोशी ने बताया कि जिला प्रतियोगिता में कई उभरती प्रतिभाएं सामने आई हैं। इन खिलाड़ियों से भविष्य में भी बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद है। राज्य प्रतियोगिता के आयोजन की तैयारी चल रही है।

 

प्रतियोगिता में बेहतर प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ी

इन खिलाड़ियों का भी अच्छा प्रदर्शन
जिला शतरंज प्रतियोगिता के अंडर-9 में इशांत सिंह को तीसरा स्थान मिला। वहीं लड़कियों के वर्ग में जीआईआईएस की शिविका तीसरे स्थान पर रही। अंडर-15 में लोटसवैली के विहान जैन को तीसरे स्थान से संतोष करना पड़ा। लड़कियों के वर्ग में प्रेक्षा मेहता संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर रहीं। इनके अलावा कई ऐसे खिलाड़ी भी रहे, जिन्होंने पहली बार प्रतियोगिता में शामिल होकर संतोषजनक प्रदर्शन किया।

अंडर-7 की प्रदेश चैंपियन आद्या अंडर-9 में दिखाएंगी दम
एपीजे स्कूल की छात्रा आद्या अंडर-7 की प्रदेश चैंपियन हैं। एक सप्ताह पहले गाजियाबाद में हुई राज्य शतरंज चैंपियनशिप में आद्या ने उम्दा प्रदर्शन करते हुए खिताबी जीत हासिल की थी। उनकी उम्र महज 6 साल है। अपने भाई को शतरंज खेलता देख वह भी इस खेल से जुड़ीं। जिला शतरंज प्रतियोगिता के अंडर-9 में दूसरा स्थान हासिल करने पर उन्हें जिले की टीम में जगह मिली है। अब वह अंडर-9 की प्रदेश शतरंज प्रतियोगिता में भाग लेंगी।

 

Leave a Reply