दिव्या को अर्जुन अवार्ड, एनसीपीई में मना जश्न


नोएडा। खेलरत्न, सं : Time, 9:30, PM.
एशियाई और राष्ट्रमंडल खेल की कुश्ती स्पर्धा में देश को पदक दिलाने वाली दिव्या काकरान को अर्जुन अवार्ड के लिए चयनित किया गया है। इसकी घोषणा होते ही धूम मानिकपुर स्थित नोएडा कॉलेज ऑफ फिजिकल एजुकेशन में जश्न मनाया गया। इस दौरान शिक्षकों ने मिठाइयां बांटी। दिव्या इसी कॉलेज से बैचलर ऑफ फिजिकल एजुकेशन एंड स्पोर्ट्स साइंस का कोर्स कर रही हैं। विपरित परिस्थितियों में दिव्या ने अपने बुलंद इरादों से इस मुकाम को हासिल किया है। उनके माता-पिता जीवन यापन के लिए लंगोट बेचते हैं। अब बेटी ने उनकी आर्थिक तंगी को खत्म कर दिया है।

दिव्या को खेल दिवस के अवसर पर 29 अगस्त को अर्जुन अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा। दिव्या वर्तमान में 68 किलोभार वर्ग में कुश्ती करती हैं। उन्होंने 2018 में एशियाई खेल और राष्ट्रमंडल खेल की कुश्ती में कांस्य पदक झटका। वहीं राष्ट्रमंडल कुश्ती चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर देश का मान बढ़ाया। इसी वर्ष सीनियर नेशनल और ऑल इंडिया यूनिवर्सिटी कुश्ती में भी स्वर्ण पदक जीतकर अपनी प्रतिभा दिखाई। दिव्या के पिता सूरज पहलवान बताते हैं कि बेटी को अर्जुन अवार्ड मिलना हमारे लिए बहुत ही सम्मान की बात है। दिव्या की मेहनत रंग ला रही है। खुद अपनी मंजिल को पा रही है, अपने परिवार को भी आर्थिक तंगी से उबार चुकी है। भविष्य में भी उनसे देश के लिए पदक जीतने की उम्मीद है।

किराये के मकान पर नहीं बल्कि अपने फ्लैट में रहेगा परिवार
अंतरराष्ट्रीय कुश्ती में शानदार प्रदर्शन करने वाली दिव्या काकरान रेलेव में सीनियर टिकट कलेक्टर की नौकरी कर रही हैं। वहीं उन्हें कंपनियां भी प्रायोजित करती हैं। ऐसे में वह वर्तमान में एक कंपनी के खर्च पर मॉडल टाउन में रहकर अभ्यास कर रही हैं। वहीं पिता सूरज पहलवान और मां संयोगिता अभी भी दिल्ली के गोकलपुर स्थित सात हजार के किराये के मकान में रह रहे हैं। वहीं दिव्या की मां लंगोट की सिलाई करती हैं और पिता सूरज पहलवान दिल्ली एनसीआर, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के दंगलों में जाकर बेचते हैं। 15 साल से यह काम परिवार कर रहा है। हालांकि दिव्या की नौकरी और प्रायोजक मिलने के बाद परिवार की स्थिति काफी सुधरी है। गाजियाबाद के राजनगर एक्सटेंशन में एक फ्लैट भी खरीदा है। जहां दो साल में परिवार शिफ्ट हो जाएगा। दिव्या को सरकारों से मिली पुरस्कार राशि से फ्लैट खरीदा है।

कॉलेज में बांटी मिठाइयां
दिव्या के अर्जुन अवार्ड के लिए चयन के बाद नोएडा कॉलेज ऑफ फिजिकल एजुकेशन में बुधवार को जश्न मनाया गया। सभी ने दिव्या को फोनकर बधाई दी। वहीं इस उपलब्धि पर मिठाइयां बांटी। कॉलेज की एमडी सोनाली राजपूत ने बताया कि कॉलेज की छात्रा दिव्या को अर्जुन अवार्ड के लिए चुना जाना बड़ी उपलब्धि है। भविष्य में भी वह बेहतर प्रदर्शन कर देश का नाम रोशन करेंगी। इस मौके पर प्रतिभा गुप्ता, डॉ. आशुतोष राय, डॉ. प्रवीण, डॉ. मनोज, डॉ.विशाल, यशोदा रानी, मनीष कुमार, दाता राम, पंकज आदि मौजूद रहे।

ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार और अलका तोमर जैसे दिग्ग्ज खिलाड़ियों ने एनसीपीई में की पढ़ाई
ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार, अंतरराष्ट्रीय महिला पहलवान अलका तोमर, अंतरराष्ट्रीय कबड्डी खिलाड़ी अनीता मावी सहित 30 से अधिक अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी एनसीपीई में पढ़ाई कर चुके हैं। हॉकी, कबड्डी, जूडो, कुश्ती, सहित अन्य खेलों के खिलाड़ी इसमें शामिल हैं। वर्तमान में भी यहां 100 से अधिक राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।

Leave a Reply