राष्ट्रीय कुश्ती में दिव्या ने स्वर्ण, दीक्षा, शीतल और साक्षी ने कांस्य झटका

-चारों छात्र नोएडा कॉलेज ऑफ फिजिकल एजुकेशन में शिक्षा ग्रहण कर रही हैं
-मध्य प्रदेश के इंदौर में 18 नवंबर को समाप्त हुई प्रतियोगिता
नोएडा। खेलरत्न, सं, Time, 8:50, PM. :
राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता में नोएडा कॉलेज ऑफ फिजिकल एजुकेशन की छात्राओं ने शानदार प्रदर्शन कर प्रदेश का नाम रोशन किया है। मध्य प्रदेश के इंदौर में 18 नवंबर को समाप्त हुई प्रतियोगिता में दिव्या काकरान ने स्वर्ण पदक झटका। कॉलेज की तीन और छात्राओं ने भी पदक झटके। सभी पहलवानों ने प्रतियोगिता में उत्तर प्रदेश का प्रतिनिधित्व किया।

फाइल फोटो, ब्लू ड्रेस में दिव्या.

दिव्या काकरान ने 68 किलोभार वर्ग में स्वर्ण पदक झटका। दीक्षा तोमर ने 53 किलोभार वर्ग का कांस्य पदक अपने नाम किया। शीतल तोमर ने 50 किलोभार वर्ग में प्रदेश को कांस्य पदक दिलाया। साक्षी ने 59 किलोभार वर्ग का कांस्य पदक जीता। इनकी जीत के बाद कॉलेज में खुशी का माहौल है। इन पहलवानों को कॉलेज में सम्मानित करने के लिए कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। एनसीपीई के चेयरमैन सुशील राजपूत ने बताया कि दिव्या सहित सभी पहलवानों को बधाई। महिला पहलवानों ने सिर्फ कॉलेज का ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश का गौरव बढ़ाया है। इन पहलवानों को सम्मानित किया जाएगा।

अभाव में गुजरा दिव्या का बचपन
दिल्ली स्थित शाहदरा के गोकलपुर में अब भी पिता सूरज सेन, पत्नी और बेटे के साथ एक कमरा और बरामदा वाले घर में किराये पर रहते हैं। इसका किराया 5000 रुपये है। वर्ष 2000 में 500 रुपये के किराये के मकान में रहना इस परिवार की मज़बूरी थी। मूलरूप से पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के गांव पुरबालियान के निवासी सूरज के पिता चीनी मील में मज़दूर थे। परिवार का भरण पोषण जैसे तैसे होता था। ऐसे में दिव्या के पिता करीब 20 साल पहले दिल्ली आ गए। पैसे के आभाव में बेटे की पढाई भी छूट गई थी।

 

Leave a Reply